Wednesday, 29 March, 2017

खुले में कूड़ा जलाने पर 25 हजार रुपये जुर्माना : NGT

गुरुवार को देशभर में खुले में कूड़ा जलाने पर पूरी तरह से राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने प्रतिबंध लगा दिया। नियमों के उल्लंघन पर एनजीटी ने पांच हजार से लेकर 25 हजार रुपये तक जुर्माना लगाने के आदेश दिए हैं। जस्टिस स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने लैंडफिल स्थल समेत भूमि पर खुले में कचरा जलाने पर पूरी तरह रोक के आदेश दिए। पीठ ने कहा कि इस तरह की किसी भी घटना के लिए जिम्मेदार व्यक्ति या निकाय को साधारण तौर पर कूड़ा जलाने के लिए 5,000 और बड़े पैमाने पर कचरा जलाने के लिए 25,000 रुपये का पयार्वरण मुआवजा देना होगा।

अलमित्र पटेल और अन्य की याचिका पर एनजीटी ने यह फैसला सुनाते हुए सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को ठोस कचरा प्रबंधन नियमों, 2016 को लागू करने का निर्देश दिए। पीठ ने पयार्वरण मंत्रलय और सभी राज्यों से छह महीने के भीतर पॉलीविनाइल क्लोराइड (पीवीसी) और क्लोरीनयुक्त प्लास्टिक को प्रतिबंधित करने के संबंध में जरूरी दिशा—निर्देश भी जारी करने के लिए कहा।

एनजीटी ने चुनाव के दौरान प्लास्टिक के झंडे-बैनर से पर्यावरण को हो रहे नुकसान पर गुरुवार को केंद्रीय पर्यावरण मंत्रलय को नोटिस जारी किया। अगले साल यूपी, उत्तराखंड, गोवा समेत पांच राज्यों में होने वाले चुनाव के मद्देनजर एनजीटी के नोटिस को महत्वपूर्ण माना जा रहा है।