राष्ट्रपति चुनाव: अरविंद केजरीवाल से मिलीं ममता, साझा उम्मीदवार के नाम को लेकर चर्चा

नई दिल्ली : एनसीपी ने एक चौकाने वाला खुलासा किया है। एनसीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार ने आगामी राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी दलों का उम्मीदवार बनने की कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी की पेशकश को ठुकरा दिया है। यह खुलासा ऐसे समय में किया गया है जब केंद्रीय एजेंसियां पी चिदंबरम और लालू प्रसाद यादव से प्रत्यक्ष या परोक्ष रुप से जुड़े लोगों के खिलाफ भ्रष्टाचार रोधी अभियान चला रही है।

निकाय चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की जीत के बीच ममता आजकल दिल्ली में हैं और राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्षी दलों के नेताओं को लामबंद कर रही हैं। मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद बुधवार को ममता ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से करीब 30 मिनट तक बातचीत की हैं। सूत्रों के मुताबिक, दोनों मुख्यमंत्रियों ने विपक्ष के साझा उम्मीदवार के नाम को लेकर चर्चा की है।

फिलहाल पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी के नाम पर सबसे अधिक चर्चा हो रही है। माना जा रहा है कि गांधी दोनों नेताओं के मनमाफिक बैठते हैं। इसके अलावा मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को दूसरे कार्यकाल के लिए तैयार करने पर भी चर्चा हुई, लेकिन राष्ट्रपति भवन के सूत्रों के मुताबिक, प्रणब दा ने ये शर्त रख दी है कि वह चुनाव नहीं लड़ेंगे। हां, उनके नाम पर सर्वसम्मति बने तो दूसरे कार्यकाल से उनको ऐतराज नहीं होगा।