अक्षय कुमार की टॉयलेट एक प्रेम कथा पर चली सेंसर की कैंची

केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर की फिल्म पर आठ वर्बल कट लगाए हैं। इससे पता चलता है कि अगर आप स्वच्छ भारत अभियान जैसे विषय पर भी फिल्म बना रहे हैं तो भी उसे बिना कट के पास नहीं किया जा सकता है। फिल्म को सेंसर बोर्ड ने यू/ए सर्टिफिकेट दिया है और 8 वर्बल कट लगाए हैं।

एक सीन में अक्षय अपनी ऑन स्क्रीन पत्नी से कहते हैं- तुमने मुझे तीन बार जगाया है। मैं कोई सांड हूं क्या। वहीं दूसरे सीन में एक किरदार कहता है कि वो अपने कानों पर जनेऊ (जिसे ब्राह्मण धारण करते हैं) रखकर शौच के लिए जाता है। हमें इस तरह (जनेऊ) की पवित्र चीज को ऐसे पैमाने से जोड़ने का कोई कारण नजर नहीं आया। इन सींस के अलावा फिल्म से हरामी शब्द को हटाने के लिए कहा गया है। इस फिल्म को श्री नारायण सिंह ने डायरेक्ट किया है। यह 11 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज हो जाएगी।

 

You might also like

Leave a Reply